RSCIT NOTES – Types Of Computer

rscit-notes

RSCIT NOTES – Types Of Computer

Hello Friends In This Post I Am Going To Tell RSCIT NOTES – Types Of Computer.

जब आप एक कंप्यूटर माइक्रो कंप्यूटर के बारे में सोचते हैं तो शायद सिर्फ एक ही उपकरण पर विचार आता है या तो मॉनिटर है या कीबोर्ड के बारे में ही सोचते हैं | ध्यान रहे इसमें और भी बहुत कुछ होता है माइक्रो कंप्यूटर एक सूचना प्रणाली का एक अंग ही है

rscit-notes

सूचना प्रणाली को पांच भागों में विभाजित किया जाता है

(I) लोग
(II) प्रिक्रियाऐ
(III) सॉफ्टवेयर
(IV) हार्डवेयर
(V) आंकड़े

अब हम आपको इसे विस्तार से समझाएंगे

(I) लोग :- 5 अंगों में से सूचना प्रणाली में से किस अंग को नजरअंदाज करना आसान है, माइक्रो कंप्यूटर दरअसल लेकिन सारे इनसे ही जुड़े होते हैं जो आप जैसे लोगों और यूजर्स की कार्य क्षमता को बढ़ाते हैं

(II) प्रक्रियाये :- जिन नियमों और निर्देशों का पालन करके लोग सॉफ्टवेयर हार्डवेयर आंकड़ों का उपयोग करते हैं उन्हें प्रक्रियाये कहते हैं| कंप्यूटर विशेषज्ञों के द्वारा यह प्रक्रियाये पुस्तकों के साथ देते हैं यह मैनुअल छपे हुए या इलेक्ट्रॉनिक स्वरूप में होते हैं |

(III) सॉफ्टवेयर :- सॉफ्टवेयर एक प्रोग्राम है, कंप्यूटर को कार्य करने के लिए क्रमानुसार निर्देश देता रहता है प्रोग्राम या अनेक प्रोग्राम का दूसरा नाम सॉफ्टवेयर है सॉफ्टवेयर का उद्देश्य आंकड़ों (अनप्रोसैस्ड तथ्यों) को सूचना (प्रोसेस्ड तथ्य) में बदलना है

(IV) हार्डवेयर :- डाटा तैयार करने के लिए आंकड़ों को प्रोसेस कराने के लिए हार्डवेयर कहलाते हैं इसके अंतर्गत मॉनिटर कीबोर्ड माउस सिस्टम यूनिट और अन्य उपकरण आते हैं जो कि हार्डवेयर द्वारा सॉफ्टवेयर नियंत्रण होता है
नोट :- हार्डवेयर को हम महसूस और छू भी सकते हैं

(V) आंकड़े :- आंकड़े हम कंप्यूटर की भाषा से हम यह भी कह सकते हैं किसी विद्यार्थी के मार्कशीट के अंक उसे हम आंकड़े कह सकते हैं

उदाहरण के तौर पर कार्य किए गए घंटों की संख्या और वेतन दर को प्रोसेस गुणा करके सूचना सप्ताहिक वेतन प्राप्त किया जाता है आज लगभग सभी कंप्यूटर सूचना प्रणाली के एक अतिरिक्त अंग भी बन गए हैं कनेक्टिविटी (इंटरनेट mlke माध्य्म से एक कंप्यूटर को दूसरे कंप्यूटर को आपस मे जोड़ना ) नामक इस अंग की मदद से विभिन्न कंप्यूटर आपस में जोड़कर सूचना का आदान प्रदान करते हैं इंटरनेट कनेक्शन के साथ-साथ यह कनेक्शन टेलीफोन केबल या हवा के माध्यम से होता है कनेक्टिविटी की मदद से यूजर्स अपनी सूचना प्रणाली की क्षमता एवं उपयोगिता का अत्यधिक विस्तार कर सकते हैं

RSCIT NOTES DOWNLOAD

बड़े-बड़े कंप्यूटर सिस्टमओं के लिए विशेषज्ञ प्रक्रियाएं तैयार करते हैं सॉफ्टवेयर विकसित करते हैं और आंकड़े एकत्रित करते हैं लेकिन छोटे कंप्यूटर यानी कि माइक्रो कंप्यूटर सिस्टम में इन कार्यों को यूजर्स ही करते हैं | कुशल यूजर बनाने के लिए आपको सूचना प्रौद्योगिकी के मूल तत्वों के साथ-साथ सॉफ्टवेयर हार्डवेयर तथा आंकड़ों को समझना आवश्यक है

एग्जामिनर आपसे इनमें से यह भी क्वेश्चन पूछ सकता है जो कि निम्न प्रकार है

:- सूचना प्रणाली के 5 अंग कौन से हैं
Ans. लोग, प्रक्रियाये, सॉफ्टवेयर, हार्डवेयर, आंकड़े

:- कनेक्टिविटी क्या है
Ans. एक कंप्यूटर को दूसरे कंप्यूटर को इंटरनेट के माध्यम से जोड़ने के लिए ही कनेक्टिविटी कहा जाता है

लोग को अपने विस्तार से समझते है

इंटरनेट से वीडियो :-
इंटरनेट का प्रयोग मूवी देखने के लिए टेलीविजन शो देखने के लिए करना चाहते हैं या देखना चाहते हैं क्या आप मूवीस और इस शो को डिजिटल मीडिया पर प्लेयर पर देखना चाहेंगे तो आपको चाहिए हार्डवेयर सॉफ्टवेयर और एक इंटरनेट कनेक्शन तो दोस्तों आप देख सकते हैं इंटरनेट से वीडियो

होम नेटवर्किंग :-
प्रिया विद्यार्थियों आपने देखा होगा नेटवर्किंग का प्रयोग स्कूलों में कॉलेजों में बैंकों में हॉस्पिटलों में आधी पर देखा होगा इसका नेटवर्किंग का प्रयोग आप अपने घर पर भी कर सकते हैं इसका अब मनोरंजन भी उठा सकते हैं इससे नेटवर्किंग से वीडियो भी देख सकते हो ऑडियो मनोरंजन कर सकते हो
अगर आपके पास घर में एक से अधिक कंप्यूटर है तो आप वायरलेस होम नेटवर्क का उपयोग फाइल्स और प्रिंटर्स शेयर एक साथ अनेक कंप्यूटरों से इंटरनेट एक्सेस और इंट्रेक्टिव कंप्यूटर गेम्स खेलने के लिए भी कर सकते हैं

बड़ी फाइलों को शेयर करना :-
प्रिय विद्यार्थियों आपने देखा होगा कि कुछ वीडियो यहां कुछ ऐसे फाइलें ईमेल अटैचमेंट के रूप में भेजने के लिए बहुत भारी होती है इसका आसान तरीका है ऐसे माध्यम का उपयोग करना जहां फाइलों को निशुल्क शेयर किया जा सके

स्पीच रिकगनिशन :-
स्पीच रिकगनिशन का मतलब है कि आप कंप्यूटर के कीबोर्ड से आप टाइप कर कर के थक गए होंगे तो स्पीच रिकग्निशन का एक ऐसा सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट किया जाता है जिससे कि आपकी आवाज को टेक्स्ट में परिवर्तन किया जा सके इसे ही स्पीच रिकगनिशन कहते है

डिजिटल वीडियो एडिटिंग :-
डिजिटल वीडियो एडिटिंग इसका तात्पर्य यह है कि कंप्यूटर के माध्यम से एक ऐसा सॉफ्टवेयर है जिससे कि हम डिजिटल वीडियो एडिटिंग कर सकते हैं और अपने मित्रों के साथ शेयर कर सकते हैं यह एक ऐसा सॉफ्टवेयर है

वायरस से बचाव इंटरनेट सुरक्षा :-
प्रिया विद्यार्थियों हमें वायरस से बचाव भी करना चाहिए क्योंकि कंप्यूटर के लाभ होने के कारण इसके दोष भी होते हैं कोई आपके ईमेल चेक करा हो ऐसे लोग आपके कंप्यूटर पर अपना नियंत्रण भी कर सकते हैं इसके बचाव के लिए अनेक प्रकार के एंटीवायरस बाजार पर उपलब्ध है

Rscit एग्जाम से रेलेटेड महत्वपूर्ण प्रश्न

:- चार्ल्स बैबेज को कंप्यूटर का पिता महा कहा जाता है
:- वॉन न्यूमैन का कंप्यूटर के विकास में सर्वाधिक योगदान है
:- आधुनिक कंप्यूटर की खोज सर्वप्रथम 1946 ईस्वी में हुई थी
:- कंप्यूटर के क्षेत्र में महान क्रांति 1960 ईस्वी से आई
:- विश्व में सर्वाधिक कंप्यूटरों वाला देश संयुक्त राज्य
अमेरिका है इसके पश्चात क्रमशः जापान जर्मनी ब्रिटेन फ्रांस का स्थान आता है भारत का इस सूची में 19वां स्थान है
:- कंप्यूटर साक्षरता का अर्थ है कंप्यूटर क्या कर सकता है और क्या नहीं इस बात की जानकारी होना
:- कंप्यूटर के एक भाग से दूसरे भाग में सिग्नल भेजने वाले इलेक्ट्रॉनिक पथ को बस कहते हैं
:- 2 दिसंबर कंप्यूटर साक्षरता दिवस के रूप में मनाया जाता है
:- भारत में नई कंप्यूटर नीति की घोषणा नवंबर 1984 में की गई थी
:- भारत में निर्मित प्रथम कंप्यूटर सिद्धार्थ है इसका निर्माण इलेक्ट्रॉनिक कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया ने किया था
:- भारत का प्रथम कंप्यूटरीकृत डाकघर नई दिल्ली का है
:- निजी क्षेत्र के अंतर्गत स्थापित होने वाला भारत का प्रथम कंप्यूटर विश्वविद्यालय राजीव गांधी कंप्यूटर विश्वविद्यालय है

If You Want To Download RSCIT Notes Please Join My Telegram – SarkariHope

2 Trackbacks / Pingbacks

  1. RSCIT NOTES - Software - Dowmload All RSCIT Exam NOTES In PDF
  2. RSCIT CHAPTER 2 - SOFTWARE & HARDWARE | RSCIT RESULT

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*